प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2022 , pradhan mantri swamitva yojana

प्रधानमंत्री मोदी ने 24 अप्रैल 2020 ने शुक्रवार को स्वामित्व योजना को लॉन्च कर दिया है। यह सरकारी योजना ग्रामीण क्षेत्रों के विकास को लेकर शुरू की गई है। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी के अनुसार स्वामित्व योजना 2020 से ग्रामीण क्षेत्रों में विकास के प्रयासों को गति मिलेगी। जिससे देश भर के पंचायती राज संस्थानों में ई गर्वनेंस को मजबूती मिलेगी।

pradhan mantri swamitva yojana 2022

पीएम स्वामित्व योजना लागू होने के बाद कोई भी व्यक्ति घर बैठे ही अपनी संपत्ति का ब्यौरा देख सकता है। जिससे ग्रामीण क्षेत्रों के लोग अपनी गाँव की संपत्ति के आधार पर बैंक से लोन ले सकते हैं। प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन या पंजीकरण कैसे करना है इसकी जानकारी लेख में दी गई है।

PM स्‍वामित्‍व योजना 2022 से आधुनिक सर्वेक्षण विधियों के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में आबाद भूमि का सीमांकन / मैपिंग किया जाएगा। जिससे ग्रामीण लोगों को बैंक से लोन लेने में आसानी हो। प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को सफल बनाने के लिए पंचायती राज मंत्रालय, राज्य के पंचायती राज विभाग, राज्य के राजस्व विभाग और सर्वेक्षण विभाग मिलकर काम करेंगे।

देश के सरपंचों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते समय पीएम मोदी ने E-GramSwaraj पोर्टल और ग्राम स्वराज Mobile App भी लॉन्च किया जिसका उद्देश्य ग्राम पंचायतों के फंड, उसके कामकाज की पूरी जानकारी उपलब्ध कराना है जिससे गाँव का कोई भी व्यक्ति अपनी पंचायत के कार्य की रिपोर्ट को ऑनलाइन देख सके।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2022
मिशन वात्सल्य योजना 2022

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2022 – ऑनलाइन पंजीकरण

  • स्वामित्व योजना (PM Swamitva Scheme) की वेबसाइट पर जाना होगा (जो अभी शुरू नहीं हुई है)।
  • यहां रजिस्ट्रेशन करना होगा जिसके बाद आवेदक को लॉगिन आईडी और पासवर्ड मिल जाएगा।
  • Login Id और Password से लॉगिन करना है और PM स्वामित्व योजना 2021 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करना है।
  • फिर आवेदन फॉर्म में जो जानकारी पूछी जाएगी उसे भरना होगा।
  • इसमें जिला, प्रखंड, गांव, पंचायत जैसी जानकारी महत्वपूर्ण होगी। सारी जानकारी भरने के बाद आप सबमिट कर दें।
  • उसके बाद आपके मोबाइल पर इससे संबधित नोटिफिकेशन मिल जाएगी। जिससे यह पता लगेगा की आपकी ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म सफलतापूर्वक सबमिट कर ली गई है।

PM स्वामित्व योजना 2022 – बैंक लोन प्रक्रिया

इस योजना की लॉन्चिंग के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि गांवों में संपत्ति को लेकर झगड़े होते रहते हैं, इसकी सबसे बड़ी वजह यह होती है कि उसका कोई लेखा-जोखा नहीं होता है:
– लेकिन PM स्वामित्व योजना से होगा ये की देश के हर गांव में भूमि की मैपिंग के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया जाएगा।
– जिसके बाद भूमि का स्वामित्व या मालिकाना हक का घरौनी प्रमाण पत्र / सर्टिफिकेट जारी किया जाएगा।
– इसमें एक बड़ी बात यह होगी कि पहले गांवों की जमीन पर बैंक से लोन नहीं मिल पाता था क्यूंकि सर्वे करने में बहुत सी परेशानियों की सामना करना पड़ता था और लोन का आवेदन रद्द हो जाता था।
– लेकिन अब भूमि का प्रमाणपत्र जारी होने के बाद उस संपत्ति के जरिए किसी भी सहायक बैंक से लोन लिया जा सकेगा।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए सरकार ने अभी पोर्टल शुरू नहीं किया है जिसकी वजह से आप वेबसाइट पर जाकर गाँव की संपत्ति पर लोन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं कर सकते हैं।

स्वामित्व योजना से मिलने वाले लाभ

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2021 में ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को क्या-क्या लाभ मिलेंगे इसकी जानकारी इस प्रकार है:

  1. किसी भी प्रकार के स्वामित्व के रिकॉर्ड की अनुपस्थिति या आबादी की भूमि के कब्जे, जल निकासी या सीमा वाले झगड़ों को हल करने में आसानी होगी।
  2. अभी गांव के जमीनी विवाद को हल करने में 20 साल से भी अधिक का समय लग जाता है।
  3. यह योजना ग्राम परिवारों को लोन और अन्य वित्तीय लाभों के लिए वित्तीय परिसंपत्तियों के रूप में अपने घरों का उपयोग करने के साथ साथ ग्रामीण क्षेत्रों के संपत्ति अधिकारों का रिकॉर्ड प्रदान करने में भी सक्षम करेगी ।
  4. स्वामित्व योजना से ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के प्रयासों को गति मिलेगी।
  5. इस योजना के जरिए भारतीय सर्वेक्षण मंत्रालय ड्रोन के जरिए आबादी क्षेत्र का डेटाबेस बनाएगा, जिससे कल्याणकारी विकास योजनाओं को बनाने में मदद मिलेगी।
  6. ग्रामीण क्षेत्रों में रिहायशी भूमि का​ सीमांकन / मैपिंग करने में आसानी होगी साथ ही सभी ग्रामीण संपत्तियों का भी नामांकन किया जा सकेगा।
  7. इस योजना के आधार पर ही आने वाले वर्षों में पंचायती राज दिवस के दिन दिए जाने वाले पुरस्कारों की घोषणा होगी। इस योजना का मकसद है ग्रामीण भारत को अपग्रेड करना।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना में शामिल राज्य : हालांकि अभी इस योजना को उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तराखंड और कर्नाटक सहित 6 राज्यों में शुरू किया जाएगा और समय-समय के साथ इसमें परिवर्तन किए जाएंगे।

अभी के लिए PM स्वामित्व योजना के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म कैसे भरना है, जरूरी दस्तावेज कौनसे देने होंगे कितने तक का लोन मिलेगा इसकी जानकारी सरकार द्वारा सांझा नहीं की गई है जैसे ही हमें Swamitva Yojana Details मिलेगी हम अपने आर्टिक्ल में उसे अपडेट कर देंगे।

Leave a Comment