तालिबानी समर्थकों पर लगाम कसने के लिए देवबंद में बनेगा ATS कमांडो सेंटर, तैनात होंगे 15 से ज्यादा तेज तर्रार अफसर

मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने ट्वीट करते हुए लिखा ‘तालीबान की बर्बरता के बची यूपी की खबर भी सुनिए. योगीजी ने तत्काल प्रभाव से देवबंद में एटीएस कमांडो सेंटर खोलने का निर्णय लिया है. 

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार देवबंद में एटीएस कमांडो सेंटर बनाने का ऐलान कर दिया है. जल्द ही यहां पर 2 हजार वर्ग मीटर जमीन पर कमांडो सेंटर बनने जा रही है. मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने ट्वीट करते हुए लिखा ‘तालीबान की बर्बरता के बची यूपी की खबर भी सुनिए. योगीजी ने तत्काल प्रभाव से देवबंद में एटीएस कमांडो सेंटर खोलने का निर्णय लिया है. युद्धस्तर पर काम शुरू भी हो गया है. प्रदेशभर से चुने हुए करीब डेढ़ दर्जन तेज तर्रार एटीएस अफसरों की यहां तैनाती होगी’. 

https://atmnirbharbharat.info/government-scheme/goabar-paint-factory/

लखनऊ और नोएडा में भी बन रहा ATS कमांडो ट्रेनिंग सेंटर 
उत्तर प्रदेश सरकार ने ये फैसला वर्तमान परिस्थितियों और चुनौतियों को देखते हुए लिया है. सहारनपुर जिले में स्थित देवबंद से पहले नोएडा और लखनऊ में एटीएस का कमांडो ट्रेनिंग सेंटर खोलने की तैयारी चल रही है. राजधानी लखनऊ में अमौसी और नोएडा में इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास यह सेंटर बनेंगे. इसके लिए नोएडा और लखनऊ में जमीन भी फाइनल हो चुकी है. इन जगहों पर SPG और आर्मी के अफसरों के देखरेख में स्पेशल कमांडो तैयार होंगे. यहां पर ट्रेनिग लेने वाले सभी कमांडो को आतंकी हमलों के दौरान बचाव औ राहत में इस्तेमाल होने वाली हर चीज सिखाई जाएंगी. 

15 से ज्यादा अफसर होंगे तैनात 
प्रदेश सरकार ने पूरे प्रदेश से करीब डे़ढ़ दर्जन तेज तर्रार एटीएस अफसरों का चयन किया है, जिन्हें देवबंद में तैनात किया जाएगा. अफगानिस्तान के भयावह स्थिति को देखते हुए तालिबानी समर्थकों पर लगाम कसने के लिए योगी सरकार अभी से अलर्ट हो गई है. इसलिए यहां पर एटीएस कमांडो सेंटर बनाने के फैसला लिया गया है. 15 से ज्यादा अफसरों को कमांडो सेंटर में तैनात किया जाएगा. यहां पर बड़ी संख्या में एटीएस कमांडो को ट्रेनिंग दी जाएगी.

स्रोत जी न्यूज़

Leave a Comment