स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 अमृत 2.0 क्या है (Swachh Bharat Mission Urban 2.0 AMRUT 2.0 in Hindi)

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 अमृत 2.0 क्या है, मिनिस्ट्री, गाइडलाइन, लाभ, लॉग इन, अधिकारिक वेबसाइट, टोल फ्री नंबर, पात्रता, दस्तावेज (Swachh Bharat Mission Urban 2.0 AMRUT 2.0 in Hindi) (Ministry, Guideline, Benefit, Login, Official Website, Toll free Number, Eligibility)

स्वच्छता एक या 2 दिन की नहीं अपितु लोगों के लाइफस्टाइल का एक हिस्सा होना चाहिए। भारत सरकार ने स्वच्छ भारत अभियान से नागरिकों को विकास की ओर बढ़ने का एक नया अवसर दिखाया था। अब भारत सरकार ने फिर से एक बार स्वच्छ भारत मिशन को एक नए स्तर पर ले जाने की कोशिश की। अक्टूबर 1 2021 को भारत सरकार ने स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 और अमृत 2.0 मिशन का शुभारंभ किया। हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 और अमृत 2.0 से जुड़ी सभी जानकारी देंगे। 

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 (What is Swachh Bharat Mission 2.0)

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 एक ऐसा मिशन है जिसके तहत भारत के सभी शहरों को कचरे से मुक्त किया जाएगा। शहरों में जितने भी कचरो के आडंबर और ढेर पाए जाते हैं उन सब को संपूर्ण रूप से साफ करने का मिशन है स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0। 

अमृत 2.0 क्या है (What is AMRUT 2.0)

अमृत 2.0 भारत के शहरों को पानी की सुरक्षा प्रदान करेगी और साथ ही साथ अर्बनाईसेशन को भी बढ़ावा देगी। 

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 और अमृत 2.0 उद्देश्य (Objective)

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 और अमृत 2.0 का उद्देश्य है भारत के सभी शहरों को कचरे से मुक्त करना और जल सुरक्षित बनाना। शहरों के सभी घरों को पानी देने का कार्य और भूमि जल की सुरक्षा हेतु काम करना भी अमृत 2.0 का उद्देश्य होगा। 

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 विशेषताएं (Swachh Bharat MIssion Urban 2.0 Features)

  • स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 के अंतर्गत भारत के सभी शहरों से कचरे के ढेर को संपूर्ण रुप से हटाया जाएगा।
  • स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 के अंतर्गत भारत के सभी शहरों को कचरा मुक्त बनाया जाएगा।
  • भारत सरकार के मुताबिक पहले 20% तक के कचरे का प्रोसेसिंग हुआ करता था जो बढ़कर 70% हुआ और अब सरकार इसे 100% बनाने की उम्मीद रख रही है। 
  • इस मिशन के अंतर्गत स्वच्छता से जुड़ी सभी सुविधाओं को और बेहतर बनाया जाएगा।
  • इस मिशन के अंतर्गत सभी शहरों में काले पानी और दूसर के प्रबंधन को सुनिश्चित किया जाएगा। 
  • योजना के अंतर्गत सभी शहरी स्थानीय निकायों को ODF+ के रूप में तैयार किया जाएगा।
  • जिस शहर की संख्या एक लाख से कम है, उन्हें ODF++ के रूप में तैयार करने का लक्ष्य है। 
  • खुले में शौच नहीं किया जाए इसका ध्यान पहले से और ज्यादा रखा जाएगा। 
  • रीयूज, रिड्यूस और रीसायकल जैसे सिद्धांतों के उपयोग पर ध्यान दिया जाएगा। 
  • शहर में कछुओं को वैज्ञानिक रूप से खत्म करने के प्रबंधन किए जाएंगे।
  • शहर में पनप रहे डंपसाइट के सुधार पर ध्यान दिया जाएगा। 

अमृत 2.0 विशेषताएं (AMRUT 2.0 Features)

  • अमृत 2.0 मिशन के तहत 1.1 करोड़ नल कनेक्शन जो घरेलू होंगे और 85 लाख सीवर कनेक्शन जोड़कर जल सुरक्षा करने की ओर काम किया जा रहा है। इससे चार करोड़ से भी अधिक लोगों को लाभ मिलेगा।
  • अमृत 2.0 मिशन के तहत शहर के सभी घरों में पानी के सप्लाई का काम किया जाएगा। 
  • अमृत 2.0 से शहर के 10.5 करोड़ से भी ज्यादा लोगों को लाभ मिलेगा। 
  • इस बात का ध्यान रखा जाएगा कि नालों के पानी नालों का पानी नदियों में ना मिले। 
  • अमृत 2.0 मिशन सर्कुलर इकोनामी जैसे सिद्धांतों पर चलेगा।
  • सतह के जल एवं भूमि जल की सुरक्षा हेतु कार्य को बढ़ावा दिया जाएगा। 
  • सभी शहरों के बीच उन्नति शील कंपटीशन को बढ़ावा देने के लिए पेयजल सर्वेक्षण भी आयोजित किया जाएगा और जल प्रबंधन और टेक्नोलॉजी उप-मिशन में डेटा के आधार पर चलने वाले शासन को बढ़ावा दिया जाएगा। 

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 और अमृत 2.0 पात्रता (Eligibility)

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 और अमृत 2.0 केवल भारत के कुछ शहरों के लिए नहीं अपितु भारत के सभी शहरों के लिए है। यह दोनों मिशन भारत के शहरों को कचरा मुक्त बनाएगा और जल सुरक्षित होने का लक्ष्य भी पूरा करेगा। 

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 और अमृत 2.0 ऑफिशल वेबसाइट (Official Website)

दोनों मिशन के अंतर्गत जो भी काम किया जाएगा उन सब से जुड़ी जानकारी सरकार द्वारा ऑफिशल वेबसाइट पर डाली जा सकती है। हालांकि सरकार द्वारा इसकी ऑफिशल वेबसाइट की सूचना अब तक नहीं दी गई है। 

स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 और अमृत 2.0 भारत को कचरा रहित बनाने और इसके सस्टेनेबल डेवलपमेंट की ओर बढ़ती दिख रही है। इन दोनों मिशन से अर्बनाइजेशन में भी बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। 

होम पेजयहाँ क्लिक करें

FAQ

Q : स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 और अमृत 2.0 का शुभारंभ कब हुआ?

Ans : अक्टूबर 1 2021

Q : अमृत 2.0 का लक्ष्य क्या है?

Ans : शहरों में जल सुरक्षित करना, सभी घरों को जल पहुंचाना और भूमि जल को भी सुरक्षित करना। 

Q : अमृत 2.0 मिशन के तहत कितने नल कनेक्शन लगाने की तैयारी हो रही है?

Ans : 1.1 करोड़ घरेलू नल कनेक्शन।

Q : अमृत 2.0 मिशन के तहत कितने नल कनेक्शन सीवर कनेक्शन जोड़कर जल सुरक्षित किया जाएगा?

Ans : 1.1 करोड़ घरेलू नल कनेक्शन और 85 लाख सीवर कनेक्शन।

Q : क्या अमृत 2.0 मिशन और स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 भारत के सभी शहरों के लिए है?

Ans : हां।

Leave a Comment