प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2021 : pradhanmantri garib kalyan rojgar yojna 2021

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan: लॉकडाउन के दौरान अलग अलग मेट्रो शहरों से लाखों की संख्या में प्रवासी मजदूर अपने अपने घरों को लौट चुके हैं. अचानक से आए लॉकडाउन में इन प्रवासी मजदूरों के सामने रोजी रोटी का संकट आ गया है. ऐसे में इन मजदूरों को तत्काल रोजगार देने के लिए केंद्र सरकार ने गरीब कल्याण रोजगार अभियान का एलान किया है, जिसे 20 जून को बिहार के एक गांव से लांच किया जाएगा. इस अभियान के तहत 125 दिनों तक मजदूरों को अलग अलग कामों में रोजगार मुहैया कराया जाएगा. सरकार ने इसके लिए 50 हजार करोड़ रुपये का फंड मंजूर किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस अभियान की शुरुआत करेंगे.

उद्देश्य गरीब कल्याण रोजगार- Gareeb Kalyan Rojgar

पीएम नरेंद्र मोदी गरीब प्रवासी श्रमिक कल्याण योजना का उदेश्य देश के ग्रामीण इलाकों में प्रवासी मजदूरों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाना है और आजीविका के अवसर बढ़ाना  है।

मुख्य तथ्य गरीब रोजगार योजना 2020

अभियान का नामप्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान
इनके द्वारा घोषणा की गयीदेश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा
इनके द्वारा शुरू की जाएगीदेश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 
लॉन्च की तारीक20 जून सुबह 11 बजे
लाभार्थीदेश के प्रवासी मजदूर
उद्देश्यरोजगार के अवसर प्रदान करना

योजना अवधि और समय

125 दिन
pradhanmantri garib kalyan rojgar yojna 2021

116 जिलों में चलेगा अभियान

वित्त मंत्री निर्मला सीतारामण ने जानकारी दी है कि योजना की शुरूआत में 125 दिनों तक व्यापक स्तर पर अभियान चलाकर लोगों को रोजगार मुहैया कराए जाएंगे. इसके लिए फिलहाल 6 राज्यों के 116 जिलों को चुना गया है. इन जिलों में कम से कम 25,000 प्रवासी कामगारों को काम मुहैया कराने का लक्ष्य रखा गया है. अभियान का कामयाब बनाने के लिए सरकारी तंत्र प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए मिशन मोड में काम करेंगे.

25 योजनाओं के तहत होंगे काम

निर्मला सीतारामण ने बताया कि अभियान के 125 दिनों में सरकार की करीब 25 योजनाओं को एकसाथ लाया जाएगा. इन 25 योजनाओं में जिसको भी काम की जरूरत है उसे काम दिया जाएगा. कामगारों के कौशल के मुताबिक उन्हें काम दिया जाएगा. इसलिए अलग-अलग विभाग की 25 योजनाओं को इस अभियान में शामिल किया गया है.

घर रहकर 25,250 रु कर सकते हैं कमाई

गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत कुल 125 दिनों का काम चलेगा. इसमें रोज की मजदूरी मनरेगा की मजदूरी के हिसाब से ही दी जाएगी. इस लिहाज से एक कामगार को रोज 202 रुपये मिलेंगे. अगर कोई कामगार 125 दिनों का पूरा काम करता है, तो वह इस योजना के तहत 4 महीने के अंदर अपने घर पर ही रहकर 25250 रुपये कमा सकता है.

इन 25 कामों पर रहेगा ध्यान

– सामुदायिक स्वच्छता परिसर
– ग्राम पंचायत भवन
– फाइनेंस कमिशन फंड के तहत किए जाने वाले काम
– राष्ट्रीय राजमार्ग के काम
– जल संरक्षण एवं जल संचयन के काम
– कूओं का निर्माण
– पैधारोपण के काम
– बागवानी के काम
– आंगनवाड़ी केंद्र के काम
प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के काम
– ग्रामीण सड़क एवं सीमा सड़क के काम
– भारतीय रेल के तहत आने वाले काम
– श्यामा प्रसाद मुखर्जी रुरबन मिशन
– भारत नेट के तहत फाइबर ऑप्टिकल केबल बिछाने का काम
पीएम कुसुम योजना के काम
– जल जीवन मिशन के तहत कराए जाने वाले काम
प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा प्रोजेक्ट
– कृषि विज्ञान केंद्र के तह जीवनयापन की ट्रेनिंग
– जिला खनिज निधि के तहत आने वाले काम
-सॉलिड एवं लिक्विड वेस्ट मैनेजमैंट के काम
– फार्म पोंड योजना के काम
– पशु शेड बनाने का काम
– भेड़/बकरी के लिए शेड बनवाने का काम
– मुर्गी पालन के लिए शेड निर्माण
– केंचुआ खाद यूनिट तैयार कराना

मजदूरों की पहचान कैसे होगी

केंद्र सरकार का कहना है कि जो मजदूर श्रमिक स्पेशल या राज्य सरकार द्वारा अन्य तरीके से गांव वापस भेजे गए हैं, उनके नाम की सूची पहले से ही सरकार के पास है. उसी सूची के आधार पर उन्हें काम दिलवाया जाएगा. जो मजदूर किसी शहर से पलायन कर पैदल या किसी अन्य साधन से अपने गांव पहुंचे हैं, उनकी सूची भी संबंधित जिला के जिलाधिकारी के पास है. हालांकि ऐसे लोगों को अपनाप नाम चेक कर लेना चाहिए. रोजगार अभियान में काम कराने से लेकर मजदूरी के भुगतान का काम, सब राज्य सरकार के अधिकारी ही करेंगे.

गरीब कल्याण रोजगार अभियान की आवेदन प्रक्रिया शुरू होने के बाद सभी प्रवासी मजदूर ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। आप सब https://pmindiawebcast.nic.in/ आधिकारिक वेबसाइट पर और अधिक जानकारी की जांच कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन जैसे ही शुरू किया जायेगा वैसे ही हम यहाँ सीधा लिंक भी अपडेट कर देंगे।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2020 की पात्रता

  • आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष या उससे ज्यादा होनी चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • आयु प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र

Leave a Comment