शिशु विकास योजना 2022 : Pradhan mantri shishu vikas yojana (Fake)

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं हमारे देश में कई सारे बच्चे ऐसे हैं जो गरीब परिवारों से हैं। उन्हें अपने स्वास्थ्य तथा शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता की आवश्यकता पड़ती है। जिसके लिए सरकार द्वारा समय-समय पर कई सारी योजनाएं चलाई जाती हैं। ऐसे में कई बार ऐसा होता है कि कई ऑनलाइन तथा ऑफलाइन स्रोतों के माध्यम से गलत योजनाओं की खबर पहुंचाई जाती है। जिससे कि लोगों से पैसों की वसूली की जाती है। दोस्तों आपको बता दें की सरकार द्वारा ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है। यदि आपसे कोई शिशु विकास योजना के अंतर्गत आवेदन करने को कहता है तो ध्यान रखिए कि आपको उसकी बात पर बिल्कुल भी विश्वास नहीं करना है। क्योंकि यह खबर एकदम झूठ है। हम आपको इस लेख के माध्यम से इस फेक शिशु विकास योजना से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करेंगे।

Fake Shishu Vikas Yojana 2022

दोस्तों जैसे कि हमने आपको बताया की शिशु विकास योजना फेक है। इस योजना के अंतर्गत यह दावा किया जा रहा है कि यह योजना डॉक्टर बी आर अंबेडकर स्वयं सेवा सामाजिक कल्याण और शैक्षिक सोसाइटी के द्वारा वर्ष 2019 में आरंभ की गई थी। इस योजना के अंतर्गत देश के गरीब बच्चों के स्वास्थ्य तथा शिक्षा के लिए सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। शिक्षा के लिए ₹500000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी तथा स्वास्थ्य के लिए ढाई लाख रुपए का कवर प्रदान किया जाएगा। सरकार द्वारा कोई ऐसी योजना नहीं चलाई जा रही है। आप सभी लोगों से निवेदन है कि कृपया किसी भी योजना में आवेदन करने से पहले आप यह जरूर सुनिश्चित कर लें कि वे योजना सही है या फिर नहीं।

Shikshu Vikas Yojana 2022 Highlights

योजना का नामशिशु विकास योजना
संस्था का नामडॉ। बी। आर। अंबेडकर स्वयं सेवा सामाजिक कल्याण और शैक्षिक सोसाइटी के द्वारा
लाभार्थीदेश के गरीब बच्चे
उद्देश्यबच्चो को शिक्षा स्वास्थ्य के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://pmsvy-cloud.in/Home/Index  

Fake Shishu Vikas Yojana 2022 Apply

इस योजना के तहत डॉक्टर बी आर आंबेडकर स्वयं सेवी सोशल वेलफेयर एंड एजुकेशनल सोसाइटी द्वारा 20.75 करोड़ गरीब, वंचित ग्रामीण बच्चे को स्वास्थ्य, जीवन और शिक्षा में वित्तीय सुरक्षा प्रदान की जाएगी । Shishu Vikas Yojana 2022 देश के गरीब बच्चे जो स्कूल जाते है उनके लिए शुरू की गयी है । प्रधानमंत्री  शिशु विकास योजना के तहत 3 और पाँच वर्ष के बच्चों को शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्रदान  करती है। देश एक जो इच्छुक लाभार्थी अपने बच्चो को इस योजना के तहत लाभ पहुँचाना चाहते हो तो उन्हें शिशु विकास योजना 2022 के तहत आवेदन करना होगा । इस योजना के तहत डॉक्टर बी आर आंबेडकर स्वयं सेवी सोशल वेलफेयर एंड एजुकेशनल सोसाइटी प्रत्येक गरीब बच्चो को पूर्ण विकास प्रदान करेगी ।

प्रधानमंत्री शिशु विकास योजना 2022 आवेदन (Fake Yojana)

दिल्ली के साइबर सेल द्वारा प्रधानमंत्री शिशु विकास योजना के अंतर्गत ठगी करने वाले तीन आरोपी पकड़े गए हैं। यह आरोपी दो वेबसाइट के माध्यम से लोगों का पंजीकरण कराकर प्रति बच्चे के ₹250 अभिभावकों से वसूल किया करते थे। इन आरोपियों ने देश भर के हर राज्य में अपना एक एक एजेंट नियुक्त किया हुआ था। जो कि जिला स्तर पर एजेंट नियुक्त करके बच्चों का पंजीकरण घर घर जाकर करवाते थे। ₹250 की वसूली में से ₹50 जिला स्तर के एजेंट को दिए जाते थे तथा ₹50 राज्य स्तर के एजेंट को दिए जाते थे और बाकी पैसे मुख्य आरोपी तक पहुंचाए जाते थे। आरोपियों ने यह भी बताया है कि इस योजनाओं को स्कूलों और अस्पतालों को बेचने की भी योजना थी। इन आरोपियों से 7 मोबाइल फोन, 3 लैपटॉप, दो सीपीयू, नोटपैड तथा आईडी कार्ड बरामद किए गए हैं।

शिशु विकास योजना का उद्देश्य

इस योजना के तहत 3 से 5 साल के बच्चो के विकास के लिए Dr. B.R. Ambdekar Swayam sevi social welfare & educational society द्वारा देश के हर एक हिस्से में शिशु विकास केंद्र स्थापित किए जा रहे हैं । जिस के तहत  केवल देश के गरीब परिवारों के बच्चों को सम्मलित किया जायेगा । जिसके लिए संस्था आंगनबाड़ी केंद्रों का भी प्रयोग करेगी । शिशु विकास योजना का उद्देश्य   के तहत बालिकाओ को भी लाभ प्रदान किया जायेगा ।इस योजना का मुख्य उद्देश्य गरीबो और कमजोर समूहों पर वित्तीय बोझ को कम करने और गुणवत्ता स्वास्थ्य सेवाओं तक उनकी पहुंच सुनिश्चित करना ।पर यह बात एकदम गलत है। सरकार द्वारा ऐसी कोई भी योजना नहीं चलाई जा रही है। इस योजना का प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो (PIB) द्वारा खंडन भी किया गया है।

(फेक) शिशु विकास योजना 2022 के लाभ

शिशु विकास योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले झूठे लाभों की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • इस योजना के अंतर्गत जीवन बीमा के लिए 2 .5 लाख रूपये प्रति बच्चे को कवर किया जायेगा ।
  • इस योजना के अंतर्गत संस्था द्वारा उच्च शिक्षा के लिए प्रति बच्चा 5 लाख रूपये की शिक्षित सहायता प्रदान  की जाएगी ।
  • बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित करने में इस योजना के तहत कक्षा 6 में प्रवेश के बाद 3000 रु सरकार द्वारा प्रदान किये जायेगे ।
  • कक्षा 8 में प्रवेश के बाद 5000 रु
  • 10 वीं कक्षा में प्रवेश के बाद 7000 रु
  • कक्षा 12 में प्रवेश के बाद 8000 रु
  •  स्वरोजगार के लिए 21 वर्ष की आयु पर 2 लाख
  • इस योजना का लाभ देश के गरीब परिवार के पढने वाले  बच्चो को उपलब्ध कराये जायेगे ।

दस्तावेज़ (पात्रता)

  • इस योजना के अंतर्गत बच्चे के  नामांकन के लिए परिवार की आय 5 लाख से कम होनी चाहिए ।
  • सभी स्कूली छात्र इस योजना में नामांकन कर सकते हैं।
  • स्वास्थ्य बीमा लाभ प्राप्त करने के लिए खाता जोड़ें और Kyc को पूरा करें।
  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पहचान प्रमाण पत्र
  • वास्तविक प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट पासबुक

Fake– शिशु विकास योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

जैसे कि हमने आपको बताया कि सरकार द्वारा शिशु विकास योजना के नाम से कोई भी योजना अभी नहीं चलाई जा रही है। यह जानकारी एकदम गलत और भ्रामक है। यदि सरकार द्वारा भविष्य में इस प्रकार की कोई भी योजना आरंभ की जाती है तो हम आपको अपनी इस वेबसाइट के माध्यम से उस योजना से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करेंगे। परंतु इस वक्त सरकार द्वारा शिशु विकास योजना जैसी कोई भी योजना नहीं है।

Leave a Comment