पोस्‍ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी कैसे खोले ? Post Office Ki Franchise Kaise Khole ?

ऑफिस पोस्ट फ्रैंचाइजी (Post Office Franchise ) पोस्‍ट आफिस के माध्‍यम से लोगों को हमेशा कोई न कोई सुविधा प्रदान करने की सरकारी योजनाए बनती रहती है। तो एक बार फिर इंडिया पोस्‍ट की ओर से पोस्‍ट आफिस फ्रेंचाइजी खोलने का और पैसा कमाने का मौका दे रही है।

ऑफिस पोस्ट फ्रैंचाइजी (Post Office Franchise )

पोस्‍ट ऑफिस की काउंटर सर्विस डाकघर के बाहर भी उपलब्‍ध होने की सुविधा देता है। फ्रेंचाइजी की चीजों की डिलीवरी और ट्रांसमिशन विभाग ही करता है। इस योजना के त‍हत लोगों तक तो आसानी से पोस्‍ट ऑफिस सर्विस व प्रोडक्‍ट पहुंचते ही हैं, साथ ही पोस्‍ट आफिस फ्रेंचाइजी लेने वाले को अच्‍छी कमाई करने का मौका भी मिलता है।

ऑफिस पोस्ट फ्रैंचाइजी ( Post Office Franchise) दो तरह की होती है

पोस्ट ऑफिस दो तरह की फ्रेंचाइजी देता है।

  • पहली है आउटलेट फ्रैंचाइजी। देशभर में कई जगह ऐसी हैं, जहां पोस्ट ऑफिस खोलने की जरूरत है, लेकिन वहां पोस्ट ऑफिस खुल नहीं पाया है। वहां के लोगों तक सुविधाएं पहुंचाने के लिए फ्रैंचाइज आउटलेट खोला जाता है।
  • दूसरी है पोस्टल एजेंट्स फ्रैंचाइजी, यानी ऐसे एजेंट्स जो शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पोस्टल स्टैम्प्स और स्टेशनरी घर-घर पहुंचाते हैं।

पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी कैसे लें ?

अगर आप भी यह फ्रेंचाइजी लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सिर्फ 5000 रुपए का सिक्‍योरिटी अमाउंट जमा कराना होगा. यह फ्रेंचाइजी द्वारा एक दिन में किए जाने वाले फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शंस के संभावित अधिकतम स्‍तर पर आधारित है. बाद में यह एवरेज डेली रेवेन्‍यू के आधार पर बढ़ सकती है.

सिक्‍योरिटी डिपॉजिट NSC की तरह में लिया जाता है. फ्रेंचाइजी लेने वाले का सेलेक्‍शन डिविजनल हेड करता है. एप्‍लीकेशन मिलने के 14 दिनों के अंदर ASP/SDl की रिपोर्ट पर आधार पर सेलेक्शन किया जाता है.

Read This >> entrepreneur meaning in hindi

फ्रेंचाइजी के लिए क्या हैं शर्तें

  • फ्रेंचाइजी का आवेदन करने के लिए सबसे पहले फॉर्म भरकर सब्मिट करना होगा. 
  • सेलेक्शन होने पर इंडिया पोस्ट के साथ एक MoU साइन करना होगा. 
  • फ्रेंचाइजी लेने के लिए इंडिया पोस्‍ट ने मिनिमम क्‍वालिफिकेशन 8वीं पास तय की है.
  • व्यक्ति की उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए.

कौन ले सकता है फ्रेंचाइजी
पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी कोई भी व्यक्ति ले सकता है. इसमें इंस्‍टीट्यूशंस, ऑर्गेनाइजेशंस के अलावा दुकान वाले, छोटे कारोबारी भी पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी ले सकते हैं. शहरी टाउनशिप, स्‍पेशल इकोनॉमिक जोन, इंडस्ट्रियल सेंटर, कॉलेज, पॉलिटेक्निक्‍स, यूनिवर्सिटीज, प्रोफेशनल कॉलेज भी फ्रेंचाइजी के लिए आवेदन कर सकते हैं.

इन्हें भी मिल सकती फ्रेंचाइजी
पोस्‍ट ऑफिस के कर्मचारी के परिवार को भी फ्रेंचाइजी मिल सकती है. लेकिन, इसके लिए एक शर्त रखी गई है. कर्मचारी के परिवार को उसी डिवीजन में फ्रेंचाइजी नहीं मिलेगी, जहां कर्मचारी कार्यरत है. परिवार के सदस्‍यों में कर्मचारी की पत्‍नी, बच्‍चे और कर्मचारी पर निर्भर लोग भी फ्रेंचाइजी ले सकते हैं.

कैसे होती है कमाई
पोस्ट ऑफिस की फ्रेंचाइजी से कमाई कमीशन पर होती है. इसके लिए पोस्ट ऑफिस की तरफ से मिलने वाले प्रोडक्ट और सर्विस दी जाती है. इन सभी सर्विस पर कमीशन दिया जाता है. MOU में कमीशन पहले ही तय कर दिया जाता है. 

सेवाएंट्रांजेक्शन पर मिलने वाली कमीशन
पंजीकृत आर्टिकल की बुकिंगतीन रुपए
स्पीड पोस्ट आर्टिकल की बुकिंगपांच रुपए
मनी ऑर्डर की बुकिंग-
100 रुपये से लेकर 200 रुपये के मूल्य के होने वाले मनी ऑर्डर की बुकिंग पर मिलने वाली कमीशन
200 रुपये से अधिक मूल्य की होने वाले मनी ऑर्डर की बुकिंग पर मिलने वाली कमीशन
3.50 रुपएपांच रुपए
हर महीने 1000 से ज्यादा रजिस्ट्री या स्पीड पोस्ट आर्टिकल पर20 फीसदी अतिरिक्त कमीशन 
डाक टिकटों और डाक स्टेशनरी  और मनी ऑर्डर के फॉर्म की बिक्री पर मिलने वाली कमीशनबिक्री राशि का पांच प्रतिशत
रिटेल सर्विस40 प्रतिशत
Post Office commission rate

फ्रेंचाइजी लेने के लिए फॉर्म और इससे जुड़ी ज्यादा जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.
https://www.indiapost.gov.in/VAS/DOP_PDFFiles/Franchise.pdf

पोस्ट ऑफिस देता है ये सर्विस

  • स्‍टांप और स्‍टेशनरी, रजिस्‍टर्ड आर्टिकल्‍स, स्‍पीड पोस्‍ट आर्टिकल्‍स, मनी ऑर्डर की बुकिंग.
  • 100 रुपए से कम का मनी ऑर्डर बुक नहीं होगा.
  • बिल/टैक्‍स/जुर्माने का कलेक्‍शन और पेमेंट जैसी रिटेल सर्विस
  • ई-गवर्नेंस और सिटीजन सेंट्रिक सर्विस
  • भविष्‍य में डिपार्टमेंट द्वारा पेश की जाने वाली सर्विस.

Leave a Comment