झारखण्ड फ्री मोबाइल टैबलेट योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व लाभ

Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana Apply Online | झारखण्ड फ्री मोबाइल टैबलेट योजना ऑनलाइन आवेदन | Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana Application Form | झारखण्ड फ्री मोबाइल टैबलेट योजना स्टेटस

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं कोरोनावायरस संक्रमण के कारण छात्रों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए डिजिटल संसाधनों का सहारा लेना पड़ रहा है। ऐसे में कई छात्र ऐसे हैं जिनके पास डिजिटल संसाधन उपलब्ध नहीं है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए झारखंड सरकार द्वारा झारखंड फ्री मोबाइल टेबलेट योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के छात्रों को मुफ्त मोबाइल टेबलेट उपलब्ध करवाए जाएंगे। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन करने की प्रक्रिया आदि। तो यदि आप झारखंड फ्री मोबाइल टेबलेट स्कीम का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana 2022

इस योजना का शुभारंभ झारखंड सरकार द्वारा किया गया है। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा 21 हजार छात्र-छात्राओं को मोबाइल एवं टेबलेट मुफ्त में उपलब्ध करवाए जाएंगे। वित्तीय वर्ष 2021-22 में शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले कुल 136 आवासीय विद्यालयों में कक्षा 1 से 12वीं तक के छात्र-छात्राओं को यह मुफ्त मोबाइल तथा टेबलेट उपलब्ध करवाए जाएंगे। प्रदेश के लगभग 21000 अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति एवं पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों को यह टेबलेट एवं मोबाइल फोन प्राप्त होंगे। जिससे कि विद्यार्थी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे।

इसके अलावा Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana के माध्यम से छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षण सामग्री भी उपलब्ध करवाई जाएगी। विभाग द्वारा टेबलेट के साथ इंटरनेट का रिचार्ज और सिम की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा टैब में सभी महत्वपूर्ण एवं आवश्यक शिक्षण सामग्री पहले से डाली जाएगी। टैब में 12 माह का डाटा रिचार्ज करवाया जाएगा। इस योजना के संचालन के लिए सरकार द्वारा 26 करोड़ 25 लाख रुपए का खर्च किए जाएंगे।

झारखण्‍ड मुख्‍यमंत्री प्रोत्‍साहन योजना 2022

झारखंड फ्री मोबाइल टेबलेट योजना का उद्देश्य

Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के छात्रों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए डिजिटल संसाधन उपलब्ध करवाना है। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के छात्रों को मोबाइल एवं टेबलेट उपलब्ध करवाए जाएंगे। जिससे कि वह अपनी ऑनलाइन क्लास ले सकेंगे। इसके अलावा उनको शिक्षण सामग्री, सिम कार्ड एवं इंटरनेट रिचार्ज भी मुहैया कराया जाएगा। यह योजना गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित करेगी। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से प्रदेश के छात्र शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित होंगे। झारखंड फ्री मोबाइल टेबलेट योजना आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को शिक्षा के संसाधन उपलब्ध करवाएगी।

Jharbhoomi Jamabandi Nakal , Jharkhand Bhu Naksha 

Key Highlights Of Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana

योजना का नामझारखंड फ्री मोबाइल टेबलेट योजना
किसने आरंभ कीझारखंड सरकार
लाभार्थीझारखंड के छात्र
उद्देश्यनिशुल्क मोबाइल एवं टेबलेट उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइटजल्दी लॉन्च की जाएगी
साल2022
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन
राज्यझारखंड

झारखंड फ्री मोबाइल टेबलेट योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana का शुभारंभ झारखंड सरकार द्वारा किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा 21 हजार छात्र-छात्राओं को मोबाइल एवं टेबलेट मुफ्त में उपलब्ध करवाए जाएंगे।
  • वित्तीय वर्ष 2021-22 में शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले कुल 136 आवासीय विद्यालयों में कक्षा 1 से 12वीं तक के छात्र-छात्राओं को यह मुफ्त मोबाइल तथा टेबलेट उपलब्ध करवाए जाएंगे।
  • प्रदेश के लगभग 21000 अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति एवं पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों को यह टेबलेट एवं मोबाइल फोन प्राप्त होंगे।
  • जिससे कि विद्यार्थी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे।
  • इसके अलावा इस योजना के माध्यम से छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षण सामग्री भी उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • विभाग द्वारा टेबलेट के साथ इंटरनेट का रिचार्ज और सिम की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाएगी।
  • इसके अलावा टैब में सभी महत्वपूर्ण एवं आवश्यक शिक्षण सामग्री पहले से डाली जाएगी।
  • टैब में 12 माह का डाटा रिचार्ज करवाया जाएगा।
  • इस योजना के संचालन के लिए सरकार द्वारा 26 करोड़ 25 लाख रुपए का खर्च किए जाएंगे।

झारखंड राशन ई-राशन कार्ड 2022 सूची

झारखंड फ्री मोबाइल टेबलेट योजना की पात्रता

  • आवेदक झारखंड का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • छात्र अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति या फिर पिछड़े वर्ग से होना चाहिए।
  • कक्षा 1 से कक्षा 12वीं तक के छात्र इस योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • आयु का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • निवास प्रमाण पत्र आदि

जाति प्रमाण पत्र झारखण्ड ऑनलाइन आवेदन

झारखंड फ्री मोबाइल टैबलेट योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

वह सभी छात्र जो झारखंड फ्री मोबाइल टेबलेट योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं उनको अभी कुछ समय इंतजार करना होगा। अभी सरकार द्वारा केवल इस योजना को आरंभ करने की घोषणा की गई है। जल्द सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन से संबंधित जानकारी साझा की जाएगी। जैसे ही सरकार इस योजना के अंतर्गत आवेदन से संबंधित कोई भी जानकारी प्रदान करती है हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से जरूर सूचित करेंगे। तो यदि आप इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस लेख से जुड़े रहे।

झारखंड स्‍टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना 2022

Jharkhand Free Mobile Tablet Yojana FAQ

झारखंड फ्री मोबाइल टैबलेट योजना क्या है?

इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार राज्य के छात्रों को कोरोनावायरस की इस स्थिति में ऑनलाइन अध्ययन में शामिल होने के लिए मुफ्त मोबाइल और टैबलेट प्रदान करेगी। साथ ही मोबाइल सिम और 12 महीने का इंटरनेट रीचार्ज दिया जाएगा। संबंधित विभाग के माध्यम से सूचित किया गया है कि शिक्षा से संबंधित आवश्यक सामग्री मोबाइल और टैबलेट में अग्रिम रूप से रखी जाएगी।

मुफ्त मोबाइल टैबलेट योजना का लाभ कौन उठा सकता है?

झारखंड में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़ा वर्ग के छात्र जो कक्षा 1-12 में पढ़ रहे हैं, उन्हें मुफ्त मोबाइल टैबलेट योजना का लाभ दिया जाएगा।

झारखंड फ्री मोबाइल टैबलेट योजना क्यों शुरू की गई है?

आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के छात्र मोबाइल और टैबलेट का खर्च उठाने में असमर्थ हैं, इसलिए उन्हें इस कोरोना वायरस की स्थिति में अपनी पढ़ाई में शामिल रखने के लिए यह मुफ्त टैबलेट मोबाइल योजना शुरू की गई है।

झारखंड फ्री मोबाइल टैबलेट योजना का बजट क्या है?

झारखंड सरकार मुफ्त मोबाइल टैबलेट योजना 2022 को ठीक से प्रबंधित करने के लिए 26 करोड़ 25 लाख रुपये खर्च करेगी।

Leave a Comment