(रजिस्ट्रेशन) बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, Fasal Sahayata

बिहार राज्य के किसानों को उनकी फसलों में होने वाले नुकसान पर आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए बिहार सरकार द्वारा बिहार राज्य फसल सहायता योजना का शुभारंभ किया गया। इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी ताकि उन्हें खेती करने में किसी भी प्रकार के आर्थिक तंगी का सामना ना करना पड़े। तो दोस्तों आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी स्पष्ट करने जा रहे हैं। जैसे Bihar Fasal Sahayata Yojana क्या है, इसके उद्देश्य, लाभ, पात्रता, विशेषताएं एवं आवेदन की प्रक्रिया आदि। आप भी इस योजना से संबंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि हमारे इस लेख को विस्तार पूर्वक पढ़ें।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana

इस योजना की शुरुआत बिहार सरकार द्वारा राज्य के किसानों के लिए की गई है। राज्य के में सभी किसान जिन्हें अपनी फसल पर प्राकृतिक आपदा जैसे सूखा पड़ना बाढ़ आदि से नुकसान होता है उन्हें इस नुकसान से बचने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना। Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana के अंतर्गत किसानों की फसलों पर वास्तविक उत्पादन के तहत 20% के नुकसान होने पर ₹10000 की धनराशि मुहैया कराई जाएगी। इस योजना के अंतर्गत प्रदान की जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में हस्तांतरित की जाएगी। इसलिए किसानों का बैंक खाता होना अनिवार्य है। यदि किसानों का बैंक खाता उपलब्ध है तो उनका बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

खरीफ मौसम की आवेदन प्रक्रिया हुई आरंभ

जैसे कि हम सब जानते हैं बिहार सरकार द्वारा बिहार राज्य फसल सहायता योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले नुकसान के लिए किसानों को मुआवजा प्रदान किया जाए। अब बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत कृषि विभाग एवं सहकारी विभाग द्वारा खरीफ सीजन के लिए तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। सभी पात्र किसान जो खरीफ फसल उगाते हैं एवं इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर 31 जुलाई 2021 से पहले आवेदन करना होगा। सरकार द्वारा यह भी बताया गया है कि फसल कटनी का कार्यक्रम 28 फरवरी 2022 को शुरू किया जाएगा।

Bihar Fasal Sahayta Yojana Highlights

योजना का नामबिहार फसल सहायता योजना
किसके द्वारा शुरू की गईबिहार सरकार द्वारा
विभागसहकारिता विभाग
योजना का उद्देश्यकिसानों की फसलों को प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान से बचाना
योजना का लाभफसलों को बचाने के लिए सहायता राशि प्रदान करना
सहायता राशि7500 से 10,000 रुपये तक
आवेदन की अंतिम तिथिकोई नहीं
आवेदन का प्रकारऑनलाइन आवेदन
अधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें

वर्ष 2022 में किसानों को किया जाएगा भुगतान

हाली में हुई घोषणा के माध्यम से पता चला है कि सरकार द्वारा 15 मार्च 2022 को निर्धारित किया जाएगा कि बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत मुआवजा कब प्रदान  किया जाएगा। सरकार द्वारा अंदेशे से बताया गया है कि 2022 के मार्च अप्रैल के महीने में किसानों के बैंक खातों में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर मेथड के माध्यम से मुआवजा राशि प्रदान की जाएगी। आपको बता दें कि इस समय केवल सोयाबीन धान मक्का की खेती करने वाले किसानों को ही आवेदन प्रदान किया जा रहा है। इन खेतों में से केवल मक्का के लिए पूरा राज्य आवेदन कर सकता है और बात सोयाबीन की की जाए तो केवल खगड़िया बेगूसराय और समस्तीपुर जिले की आवेदन प्राप्त कर सकते हैं।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना

Fasal Sahayata Yojana Mukhyamantri 2021 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा बनाई गई योजना है। इसका मकसद है कि किसानों की फसलों के नुकसान पर दी जाने वाली वित्तीय सहायता के लिए किसी भी प्रकार का प्रीमियम नहीं लिया जाएगा। इस योजना के तहत बिहार के किसी भी जिले में फसलों के नुकसान के बाद उसकी धनराशि सीधे किसानों के बैंक खाते में डाली जाएगी। किसानों की फसलें जैसे बाढ़ तथा सूखा पड़ने से जब नुकसान होता है उसके लिए सरकार ने किसानों को आर्थिक सहायता देने का फैसला किया है। इस योजना के तहत अंतर्गत राज्य के किसानों को फसलों के बर्बाद होने पर मिलने वाली धनराशि के लिए किसी भी तरह का प्रीमियम भरना नहीं होगा।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना का उद्देश्य

जैसे कि हम सब जानते हैं हमारे देश के किसानों को प्राकृतिक आपदाओं जैसे बाढ़ सूखा पड़ना से काफी नुकसान और ऐसे में उन्हें काफी कठिनाइयों का भी सामना करना पड़ता था इसी चीज को मध्य नजर रखते हुए बिहार राज्य सरकार द्वारा बिहार राज्य फसल सहायता योजना को आरंभ किया गया है। योजना के तहत मौसम की मार से हुए फसलों के नुकसान की भरपाई सरकार द्वारा वहन की जाएगी ताकि हमारे देश के किसानों को किसी कठिनाई का सामना ना करना पड़े। इस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि हमारे देश के किसानों को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाया जाए और वह अपना जीवन अच्छे से यापन कर सकें

फसल सहायता योजना के लिए निबंधन

सहकारिता विभाग द्वारा रबी फसल के लिए निबंधन शुरू करने की अधिसूचना 3 दिसंबर 2020 को जारी कर दी गई है। इस योजना के तहत किसानों को अब किसी प्रकार का भुगतान जमा करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी यदि किसी फसल को नुकसान हुआ है तो उसकी भरपाई सरकार द्वारा वाहन की जाएगी।अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन के लिए अप्लाई करना होगा|

  • आपको बता दें कि बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत निबंधन केवल कुछ ही फसलों के नुकसान की भरपाई के लिए किया गया है,
  • जैसे गेहूं मक्का चना मसूर अरहर राई सरसों ईख प्याज़ एवं आलू।
  • तथा इन फसलों पर प्रदान की जाने वाली भरपाई सरकार द्वारा अलग-अलग तारीखों पर प्रदान की जाएगी,
  • जिसके बारे में हम आपको जानकारी नीचे प्रदान करेंगे।

किन फसलों की भरपाई की जाएगी

  • यदि अरहर फसल की बात की जाए तो नुकसान होने पर 22 जिलों को भरपाई की जाएगी। ईख की फसल को नुकसान होता है तो 16 जिलों को भरपाई की जाएगी राई तथा सरसों की फसल को नुकसान होता है तो राज्य के सभी जिलों को भरपाई की जाएगी।
  • प्याज की फसल का नुकसान होता है तो 14 जिलों को भरपाई की जाएगी तथा आलू की फसल को नुकसान होता है तो 15 जिलों को भरपाई की जाएगी।
  • चने की फसल के नुकसान होने पर राज्य के 17 जिलों को भरपाई की जाएगी इसी के साथ-साथ मसूर की फसल पर नुकसान होने पर 35 जिलों को भरपाई की जाएगी
  • योजना के अंतर्गत अगर नुकसान 20% से कम का होता है तो छतिपूर्ति दर 7500 रुपये प्रति हेक्टेयर है यदि 20% से ज्यादा का नुकसान होता है तो 100000 अति हेक्टेयर की दर से भरपाई की जाएगी।

फसल निबंधन अंतिम तिथि

फसल का नामनिबंधन की अंतिम तिथि
गेहूं26 फरवरी 2021
मक्का26 फरवरी 2021
चना31 जनवरी 2021
मसूर15 फरवरी 2021
अरहर28 मार्च 2021
ईख28 फरवरी 2021
प्याज़15 फरवरी 2021
आलू31 जनवरी 2021
राई – सरसो31 दिसंबर 2020

फसल सहायता योजना के अंतर्गत कुल आवेदन

  • 810070 ( खरीफ- 19), 1150527 ( खरीफ- 18)
  • अधिप्राप्ति के लिए 7479
  • रबी 2018-19 के आवेदन 1754350

फसल सहायता योजना में आवेदन के लिए शर्ते

 Fasal Sahayata Yojana Mukhyamantri में आवेदन के लिए

  • केवल बिहार स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • किसान का बैंक खाता आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए।
  • सिर्फ वही पात्र हैं जिनकी फसल को किसी प्राकृतिक आपदा से नुकसान हुआ हो।

आवेदन के लिए जरुरी दस्तावेज

राज्य फसल सहायता योजना 2021 में आवेदन लेने के लिए आपके पास यह दस्तावेज होने अनिवार्य हैं।

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक खाता आधार कार्ड से जुड़ा हुआ।
  • बैंक की पासबुक
  • खेती की जमीन के कागजात
  • पासपोर्ट साइज फोटो।
  • मोबाइल नंबर

रैयत कृषक के लिए

  • भू स्वामित्व प्रमाण पत्र
  • स्वघोषणा  प्रमाण पत्र

गैर रैयत कृषक के लिए

  • स्वघोषणा प्रमाण पत्र

Benefits Of Bihar Fasal Sahayata Yojana

  • राज्य के किसानों की फसलों को नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से ₹10000 की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • यह धनराशि सीधे किसानों के बैंक खातों में आएगी।
  • इस योजना से बाढ़, आंधी तथा बेमौसम बारिश से होने वाली हानि को भी शामिल किया जाएगा।
  • यह खिलाफ बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2020  मैं आवेदन लेने के लिए।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत दिशा निर्देश

  • आवेदन के नियम फोटो 50 KB से कम होनी चाहिए
  • पहचान पत्र 400 KB से कम होना चाहिए और पीडीएफ फॉर्मेट में होना चाहिए
  • बैंक की पासबुक 400 KB से कम तथा पीडीएफ फॉर्मेट में होनी चाहिए
  • आवास प्रमाण पत्र 400 KB से कम और पीडीएफ फाइल में होना चाहिए

बिहार राज्य फसल सहायता योजना में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

इस योजना में जो भी आवेदन करना चाहता है उसे नीचे दिए गए स्टेप्स को ध्यान से पढ़ना होगा और फॉलो करना होगा।

  • ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं: सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना है
  • रजिस्ट्रेशन  पर क्लिक करें: अब आपके सामने एक  पेज खुलेगा जिसमें लिखा होगा रजिस्ट्रेशन उस पर क्लिक करें। उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • आधार है या नहीं: नया पेज खुलने के बाद आपको एक प्रशन दिखाई देगा उसे पूछा जाएगा। क्या आपके पास आधार है या नहीं। अगर है तो हां के ऑप्शन पर क्लिक करें और आगे बढ़े।
  • आधार नंबर डालें: हां के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपसे आपका आधार नंबर पूछा जाएगा आधार नंबर भरें।
  • आपसे आपका नाम पूछा जाएगा: आधार नंबर डालने के बाद आपको अपना नाम भरना होगा। नाम भरें और सबमिट पर क्लिक करें।
  • इस तरीके से आपका योजना में अंतर्गत आवेदन हो जाएगा।

निरीक्षण ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • क्लिक करने के बाद आपके सामने गूगल प्ले स्टोर खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको इंस्टॉल के बटन पर क्लिक करना है
  • इस प्रकार आप आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।

निरीक्षण एप खरीफ डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • क्लिक करने के बाद आपके सामने गूगल प्ले स्टोर खुल कर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको इंस्टॉल के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार यह एप आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।

पात्र ग्राम पंचायत की सूची देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने की बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको योग्य ग्राम पंचायत की सूची के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप से पूछी गई सभी जानकारी जैसे Season, District तथा Block का चयन करना है।
  • चयन करने के बाद View के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आपके सामने पत्र ग्राम पंचायत के सूची खुलकर आ जाएगी।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना (खरीफ 2018-19) रिपोर्ट

  • सर्वप्रथम आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको रिपोर्ट के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना (खरीफ 2018-19) के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने सूची खुलकर आ जाएगी।
  • यहां आपको अपने जिले का चयन करना है।
  • जिले का चयन करने के बाद आपको ब्लॉक का चयन करना है।
  • ब्लॉक का चयन करने के बाद आपके सामने रिपोर्ट खुलकर आ जाएगी।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना रबी 2018-19 रिपोर्ट

  • सर्वप्रथम आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको रिपोर्ट के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना रबी 2018-19 के विकल्प पर क्लिक करना है
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपने जिले तथा ब्लॉक का चयन करना है
  • चयन करने के बाद आपके सामने रिपोर्ट खुलकर आ जाएगी

धान अधिप्राप्ति 2018-19 रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको रिपोर्ट के सेक्शन में जाना है।
  • यहां आपको धान अधिप्राप्ति ‌2018-19 के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • चेक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर पर आपको अपने जिले तथा ब्लॉक का चयन करना है
  • चैन करने के बाद आपके सामने संपूर्ण जानकारी खुलकर आ जाएगी

गेहूं अधिप्राप्ति 2018-19 रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको रिपोर्ट के सेक्शन पर क्लिक करना है।
  • यहां आपको गेहूं अधिप्राप्ति 2018-19 के लिंक पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • यहां आपको अपने जिले तथा ब्लॉक का चयन करना है
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने संपूर्ण जानकारी खुलकर आ जाएगी

Helpline Number

Leave a Comment