गुजरात में प्रधानमंत्री ने वितरित किए आयुष्मान कार्ड | PMJAY-MA योजना के अंतर्गत

PMJAY-MA Yojana Apply Online for Ayushman Card | PMJAY MA योजना गुजरात के अंतर्गत आयुष्मान कार्ड की लाभार्थी सूची देखें | PMJAY-MA Ayushman Card Beneficary List Download

jan arogya govt. schemes
PMJAY-MA Yojana

गुजरात में PMJAY-MA योजना के तहत आयुष्मान का र्ड वितरित करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। आपको बता दें गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में, प्रधानमंत्री ने गरीब नागरिकों को चिकित्सा उपचार और बीमारी की भयावह लागत से बचाने के लिए 2012 में “मुख्यमंत्री अमृतम योजना शुरू की थी। फिर वर्ष 2014 में इस योजना के तहत 4 लाख रुपए की वार्षिक आय सीमा वाले परिवारों को कवर करने के लिए ‘एमए’ योजना का विस्तार  किया गया । इसके बाद सन 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने गुजरात की इन दोनों स्वास्थ्य योजनाओं (Amrutam और Amrutam Vatsaly) को आयुष्मान भारत कार्ड योजना के तहत एकत्रित कर दिया था। इन दोनों योजनाओं के एकीकरण के बाद गुजरात में 1.58 करोड़ लाभार्थियों को PMJAY-MA Card जारी किए गए ।

एक अधिकारिक विज्ञाप्ति के अनुसार सितंबर 2021 से अब तक मुख्यमंत्री के नेतृत्व में 50 लाख से अधिक कार्ड जारी किए जा चुके हैं। अब इन 50 लाख लाभार्थियों को नए मुद्रित आयुष्मान पीवीसी कार्ड वितरित किए जाएंगे। आइए जानते हैं कि क्या है पीएमजेएवाई-एमए योजना?, इसके लाभ और कौन-कौन इस योजना का लाभ प्राप्त करने का पात्र है आदि के बारे में।

PMJAY-MA योजना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 17 अक्टूबर 2022 को गुजरात के अहमदाबाद में आयोजित कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से PMJAY-MA योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड वितरित करने की शुरुआत कर दी है। इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री जी ने लाभार्थियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत भी की है। गुजरात में 50 लाख से भी अधिक आयुष्मान पीवीसी कार्ड (पॉलीविनाइल क्लोराइड सामग्री से बने जिन्हें आसानी से ले जाया जा सकता है) छप चुके हैं  और संबंधित मुख्य जिला स्वास्थ्य अधिकारियों / चिकित्सा अधिकारियों को वितरित किए जा चुके हैं। जिन्हें जल्द से जल्द ग्राम स्तर पर वितरित किया जाएंगा।

Viklang Pension Yojana List 2022

लाभार्थियों को PMJAY-MA Yojana के इन आयुष्मान कार्ड  के माध्यम से प्रति परिवार 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य कवर प्रदान किया जाएगा और इसके तहत परिवार के सदस्यों की संख्या और उम्र की किसी सीमा के बिना प्राथमिक, द्वितीय एवं तृतीय स्तर के देखभाल के लिए अस्पताल में भर्ती के लिए वित्तीय सहायता दी जायेगी।

PMJAY-MA योजना Key Highlights

योजना का नामप्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना-मां अमृतम (PMJAY-MA Yojana)
शुरू की गईप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
लाभार्थीगुजरात के गरीब लोग
उद्देश्यप्रति परिवार ₹500000 का स्वास्थ्य कवर प्रदान करना
साल2022
राज्यराज्य
योजना का प्रकारकेंद्र सरकारी योजना
लाभार्थियों की संख्या50 लाख से भी अधिक

आयुष्मान भारत कार्ड योजना

Ausman Bharat
प्रधानमंत्री जन स्वास्थ्य योजना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने भारत में 25 सितंबर सन 2018 को आयुष्मान भारत कार्ड योजना को लांच किया था। इस योजना के तहत SECC-2011 (सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना ) में शामिल लोगों को ₹500000 तक का कैशलेस स्वास्थ्य कवर प्रदान किया जाता है। इस योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड दिया जाता है। जिसके माध्यम से आयुष्मान कार्ड धारक इस योजना के तहत सूचीबद्ध प्राइवेट एवं सरकारी अस्पतालों में जाकर बिना पैसे दिए 1350 तरह की बीमारियों का इलाज करवा सकते हैं।

PMJAY-MA योजना का उद्देश्य क्या है

इस योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड बांटने का मुख्य उद्देश्य ₹500000 तक हेल्थ कवर की कैशलेस सुविधा प्रदान करना है। यह सुविधा उन्हें आयुष्मान भारत कार्ड योजना के तहत सूचीबद्ध प्राइवेट एवं सरकारी अस्पतालों में दी जाएगी। PMJAY-MA Card के माध्यम से गुजरात का कोई भी कार्डधारक ‌ पीएमजीवाई योजना के तहत सूचीबद्ध अस्पतालों में जाकर अपना कैशलेस इलाज करवा सकता है।  इसके तहत उन्हीं लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड बांटे जाएंगे जिन्हें सितंबर 2021 से अब तक मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में पीएमजेएवाई- एमए योजना के कार्ड दिए गए हैं।

आयुष्मान भारत कार्ड योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा PMJAY-MA योजना के लाभार्थियों को 17 अक्टूबर 2022 से आयुष्मान कार्ड वितरित करने की शुरुआत कर दी गई है।
  • इस योजना के तहत गुजरात के 50 लाख पीएमजेएवाई- एमए योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान पीवीसी कार्ड (पॉलीविनाइल क्लोराइड सामग्री से बनी जिन्हें आसानी से ले जाया जा सकता है) वितरित किए जाएंगे।
  • यह 50 लाख आयुष्मान कार्ड छप चुके हैं जिन्हें संबंधित मुख्य जिला स्वास्थ्य अधिकारियों/ चिकित्सा अधिकारियों को वितरित किया जा चुका है जिन्हें जल्द से जल्द ग्राम स्तर पर वितरित किया जाएगा।
  • अब PMJAY-MA Yojana के लाभार्थी यह आयुष्मान कार्ड प्राप्त करके Ayushman Bharat Card Yojana के तहत सूचीबद्ध प्राइवेट एवं सरकारी अस्पतालों में जाकर अपना ₹500000 तक का कैशलेस इलाज करवा सकते हैं।
  • इस योजना के लाभ से राज्य के गरीब बीपीएल कार्ड धारक परिवारों भी अब चिंता मुक्त होकर अपनी बीमारी का अच्छे से इलाज करवा सकेंगे।

पीएमजेएवाई-एमए योजना Elegibility and Apply Process

इस योजना के तहत आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है। क्योंकि गुजरात के मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में पीएमजेएवाई-एमए योजना के तहत सितंबर 2021 से लेकर अब तक 50 लाख PMJAY-MA Card वितरित किए जा चुके हैं। इन्हीं कार्डों के लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड दिए जाएंगे। इन कार्डों को बांटने की शुरुआत प्रधानमंत्री जी के द्वारा 17 अक्टूबर 2022 को कर दी गई है। यह शुरुआत गुजरात में आयोजित एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़कर की है। इसके साथ ही उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कई लाभार्थियों से बातचीत भी की है।

Apani gadi apna rojgar schemes

आयुष्मान कार्ड कैसे बनाएं

अगर आपके पास आयुष्मान कार्ड नहीं है और अगर आप भी आयुष्मान कार्ड की ID बनाना चाहते है तो यह खबर आपके लिए बहुत ही अच्छी साबित होने वाली है। जी हां, अब आप फ्री में अपने और अपने परिवार का आयुष्मान कार्ड ID बना सकेंगे। ये तो आप जानते ही होंगे कि आयुष्मान कार्ड ID बनाकर आप हर साल 5 लाख रूपए तक का हेल्थ इंश्योरेंस (स्वास्थ्य बीमा) प्राप्त कर सकते है। इससे आपके और आपके पूरे परिवार का एक सेफ्टी मिल सकेगी।

आयुष्मान कार्ड की ID बनाने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया को अपनाना होगा। जिसमे आप अपने मोबाइल व कंप्यूटर के जरिये इसे बना सकते है। चलिए आज हम आपको बताएँगे कि कैसे आप आयुष्मान कार्ड की आईडी बना सकते है।

जाने आयुष्मान कार्ड से मिलने वाले लाभ

  • योजना के तहत हर साल आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाता है।
  • आयुष्मान कार्ड के अंतर्गत किये जाने वाले बीमा इंश्योरेंस में किसी परिवार के सदस्य की ऐज लिमिट नहीं तय की गयी है।
  • यदि किसी भी व्यक्ति को पहले से बीमारी थी या है तो वह भी इसके तहत कवर की जाएगी।
  • आयुष्मान कार्ड का लाभ देश के 50 करोड़ लोगों को लाभ दिया जायेगा।
  • इसका लाभ लेने के लिए व्यक्ति किसी भी सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटल में जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते है।
  • आयुष्मान कार्ड के तहत मरीज के भर्ती होने से पहले और भर्ती होने के बाद जितना भी खर्चा होगा उसे सरकार ही देगी।
  • डिलीवरी के समय सभी परिवार के हर एक महिलाओं को 9 हजार रुपये तक की छूट दी जाएगी।
  • इस स्कीम के जरिये बच्चों और बूढ़ों और महिलाओं के हेल्थ का विशेष ध्यान दिया जायेगा।

Qualification for आयुष्मान कार्ड

देश के जिन लोगों की आर्थिक सहायता ख़राब होती है तो उन्ही का आयुष्मान कार्ड बनवाया जाता है। इसी के साथ सरकार ने कुछ और लोगों को भी आयुष्मान कार्ड दिया जायेगा। इसमें CSC VLE के परिवार के मेंबर्स को भी आयुष्मान कार्ड फ्री में दिया जायेगा। इसके साथ ही देश के सभी राशन कार्ड धारकों को मुफ्त में आयुष्मान कार्ड प्रदान किया जायेगा।

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 12th Instalation

आयुष्मान कार्ड ID रजिस्ट्रेशन | Ayushman Card ID Registration

आयुष्मान कार्ड ID बनाने के लिए हमारे द्वारा दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें

  • आयुष्मान कार्ड आईडी बनाने के लिए आपको नेशनल हेल्थ अथॉरिटी की आधिकारिक वेबसाइट setu.pmjay.gov.in पर जाना होगा।
  • जिसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आजायेगा।
  • होम पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन योर सेल्फ एंड सर्च बेनेफिशयरी का ऑप्शन दिखाई जिसमे आपको क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके आमने नया पेज खुल जायेगा।
  • नए पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गयी जानकारी को भर देना है।
  • जिसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक कर लेना है।
  • अब आपको यूज़र ID और पासवर्ड मिल जायेगा।
  • जिसके बाद आपको यूजर ID और पासवर्ड की मदद से लॉगिन कर लेना है।
  • लॉगिन करने के बाद आपके सामने आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए आवेदन फॉर्म को भर लेना है साथ ही इसमें मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड कर लेना है।
  • इसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है।
  • क्लिक करते ही आपको रिसीप्ट का प्रिंटआउट निकाल लेना है।
  • जिसके पश्चात आपका आयुष्मान कार्ड ID हेतु आवेदन प्रोसेस पूरा हो जायेगा।

आयुष्मान कार्ड डाउनलोड कैसे करे

Bharat govt. scheme
आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड
  • सर्वप्रथम आप नेशनल हेल्थ अथॉरिटी की आधिकारिक वेबसाइट setu.pmjay.gov.in पर जाएं।
  • अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आजायेगा।
  • होम पेज पर आपको हाउ टू गेट आयुष्मान कार्ड के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके आमने नया पेज खुल जायेगा।
  • नए पेज पर आपको डाउनलोड योर आयुष्मान कार्ड पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करते ही आपको अगले पेज पर SIGN IN का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • यहाँ आपको SIGN IN और सेल्फ यूज़र में से किसी एक ऑप्शन को सेलेक्ट कर लेना है।
  • और SIGN IN कर लेना है।
  • जिसके बाद आप आसानी से अपना आयुष्मान कार्ड डाउनलोड कर सकते है।

हमने आपको आयुष्मान कार्ड की आईडी कैसे बनाएं के बारे में अपने आर्टिकल के माध्यम से सारी जानकारी प्रदान कर दी है अगर आपको जानकारी पसंद आयी हो तो हमे बता सकते है और अगर आपको इससे सम्बंधित कोई भी सवाल आपको जानने है तो आप हमे कमेंट करके पूछ सकते है।

आयुष्मान कार्ड के लिए पात्रता क्या है

अगर आपका परिवार प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना लिस्ट में रखा गया है तो आप किसी भी सूचिबद्ध अस्पताल (Empanelled Hospital) में प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक तक के इलाज का लाभ उठा सकते हैं। परिवार के आकार से पात्रता पर फर्क नहीं पड़ता: आयुष्मान भारत योजना की योग्यता में लाभार्थी परिवारों की सदस्य संख्या का कोई प्रतिबंध नहीं है।

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना 2022 में रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन कैसे करे

आयुष्मान भारत योजना 2022 रजिस्ट्रेशन करने के लिए नागरिक को अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र में विजिट करना होगा। रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए CSC सेंटर में अपने सभी दस्तावेजों को अपने साथ लेकर जाएँ। इसके बाद आवेदन करने के लिए CSC संचालक के पास अपने मूल दस्तावेजों की फोटो कॉपी को जमा कराएं।

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में आवेदन कैसे करें

अगर आप ayushman bharat pradhan mantri jan arogya yojana तो नीचे लेख में चरण-दर-चरण दी गई है कि आप pradhan mantri jan arogya yojana के लिए कैसे आवेदन कर सकते हैं। स्टेप 1: आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की आधिकारिक वेबसाइट mera.pmjay.gov.in पर जाएं। स्टेप 2: अब आपको सरकारी वेबसाइट पर लॉग इन करना होगा।

आयुष्मान कार्ड का उपयोग कितनी बार किया जा सकता है

आयुष्‍मान भारत मिशन के अंतर्गत प्रधानमंत्री राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा मिशन के तहत् सामाजिक आर्थिक जातिगत गणना (SECC) में चिन्‍हाकिंत लाभार्थियों के अतिरिक्‍त, म.

आयुष्मान भारत योजना के बारे में
स्‍वत: (Automatic) समावेशित परिवार
3,96,787
कुल SECC परिवारों की संख्‍या
83,81,782

आयुष्मान कार्ड में कौन कौन सी बीमारी आती है PDF

निजी अस्पताल में आयुष्मान भारत योजना के तहत मलेरिया, मोतियाबिंद, सर्जिकल डिलेवरी, नसबंदी, गैंगरीन समेत 196 प्रकार की बीमारियों को सरकार ने बाहर कर दिया गया है। अब इन बीमारियों का इलाज सिर्फ सरकारी अस्पतालों में होगा।

Leave a Comment