Agneepath Scheme: अग्निपथ योजना, 30 हजार की सैलरी, 48 लाख का बीमा ,जानिए योजना

agneepath yojana in hindi , agneepath yojana army , agneepath yojana details

Agneepath Recruitment Scheme 2022: देश की तीनों सेनाओं में भर्ती के लिए मोदी सरकार ने अग्निपथ योजना (Agnipath Yojna) शुरू की है.

भारतीय सेनाओं में भर्ती के लिए केंद्र सरकार के रक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी ने ‘अग्निपथ योजना’ (Agneepath Recruitment Scheme) लॉन्च की है. इस योजना का मुख्य लक्ष्य तीनों सेनाओं में युवाओं को जोड़ना और उन्हें भविष्य के लिए कुशल नागरिक बनाना है. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने कहा कि अग्निपथ योजना (Agnipath Yojna) के ज़रिए सेना को यूथफुल बनाने का लक्ष्य रखा गया है. इस मौके पर तीनों सेनाओं के अध्यक्षों ने भी इस योजना के फायदे गिनाए. आर्मी चीफ जनरल मनोज पांडे ने कहा कि अग्निवीरों को इंश्योरेंस स्कीम के साथ-साथ भविष्य में नौकरी के अवसर भी भरपूर मिलेंगे.

अग्निपथ योजना क्या है । Agneepath yojana kya hai in hindi

इस योजना के तहत भर्ती किए जाने वालों को ‘अग्निवीर’ कहा जाएगा. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि अग्निपथ योजना से निकले जवानों को बहुत सारे राज्यों, पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग, मंत्रालयों में नौकरी में प्राथमिकता दी जाएगी. अग्निपथ योजना ( agneepath yojna indian army ) के लिए देश के ITI और अन्य शिक्षण संस्थानों से युवाओं को भर्ती किया जाएगा.

ऐसे में बिंदुवार समझते हैं

  • ‘अग्निपथ भर्ती योजना’ के तहत युवा चार साल की अवधि के लिए सेना में शामिल होंगे और देश की सेवा करेंगे। 
  • चार साल के अंत में लगभग 75 फीसदी सैनिकों को ड्यूटी से मुक्त कर दिया जाएगा और उन्हें आगे के रोजगार के अवसरों के लिए सशस्त्र बलों से सहायता मिलेगी। 
  • केवल 25 फीसदी जवानों को चार साल बाद भी मौका मिलेगा। हालांकि यह तभी संभव होगा जब उस समय सेना की भर्तियां निकली हों।
  • कई निगम ऐसे प्रशिक्षित और अनुशासित युवाओं के लिए नौकरी आरक्षित करने में भी रुचि लेंगे जिन्होंने देश की सेवा की है। 
  • योजना के तहत सशस्त्र बलों का युवा प्रोफाइल तैयार करने का प्रयास किया जा रहा है। युवाओं को नई तकनीकों से प्रशिक्षित किया जाएगा। 
  • चार साल की नौकरी छोड़ने के बाद युवाओं को सेवा निधि पैकेज दिया जाएगा। जो 11.71 लाख रुपए होगा। 
  • योजना के तहत इस साल 46 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी। 

Agneepath Bharti Yojana 2022 Detail

Agneepath Bharti Scheme 2022 Details
विभाग का नामरक्षा मंत्रालय
योजना का नामअग्निपथ भर्ती योजना
घोषणाकर्तारक्षामंत्री राजनाथ सिंह
लाभार्थीबेरोजगार अभ्यार्थी
वेतन30000 रुपया
बीमा राशि44 लाख
लेवलराष्ट्रीय स्तर
श्रेणीSarkari Yojana
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
स्थानभारत
ऑफिशियल वेबसाइटmod.gov.in

Agniveer बनने की योग्यता क्या होगी?

बताया गया है कि अग्निपथ योजना के तहत, पुरुष और महिला (सेवा की जरूरत होने पर शामिल की जाएंगी) दोनों को अग्निवीर बनने का मौका दिया जाएगा.

Agneepath yojna eligibility

17.5 साल से लेकर 21 साल तक के युवा इस सेवा में शामिल होने के लिए योग्य माने जाएं. वर्तमान में सेना के जो मेडिकल और फिजिकल स्टैंडर्ड हैं वही मान्य होंगे.

Agneepath scheme qualification

10वीं और 12वीं पास कर चुके युवा (सैन्य बलों की नियम और शर्तों के अनुसार) अग्निवीर बन सकते हैं.

जानें कितना मिलेगा वेतन  । Agneepath Scheme Salary

साल  महीनेवार वेतन  कैश इन हैंड 
प्रथम वर्ष   30000      21000 
दूसरे वर्ष   33000      23100
तीसरे वर्ष           36000          25580
चौथे वर्ष 40000        28000

अग्निपथ योजना की कुछ खास बातों पर नजर डालें तो सेना में शामिल होने पर अग्नि वीरों को महीने में लगभग 30,000 की सैलरी मिलेगी जिसमें से लगभग 9000 उनकी सेविंग होगी और उतना ही हिस्सा सेना भी उनकी सेविंग में मिलाएगी। दूसरे साल में सैलरी के अंश के साथ-साथ सेविंग का अंश भी बढ़ेगा और 4 साल बाद जब वह सेना को छोड़ेंगे तब उन्हें लगभग 11,70000 का पैकेज दिया जाएगा। सेना की तरफ से एक विशेष सर्टिफिकेट भी उनके करिकुलम को यूनिक बनाएगा। इन अग्नि वीरों को 48,00000 रुपए का इंश्योरेंस कवर भी दिया जाएगा।

चार साल बाद मिलेगा सेवा निधि पैकेज

वेतन से कटने वाला पैसा अग्निवीर कॉर्प्स फंड में जमा होगा। जितना पैसा अग्निवीर के वेतन से कटेगा, उतनी ही राशि सरकार भी अग्निवीर कॉर्प्स फंड में डालेगी, जो चार साल की सेवा पूरी करने के बाद अग्निवीर को ब्याज सहित वापस मिलेगा। यह राशि करीब 11.71 लाख रुपये होगी, जो सेवा निधि पैकेज के रूप में मिलेगी। पूरी राशि कर मुक्त होगी। 

कैसे होगी भर्ती?

अग्निपथ योजना के तहत, साढ़े 17 साल से 21 साल के युवाओं को सेना में भर्ती किया जाएगा. इन्हें 10 हफ्ते से लेकर छह महीने तक की ट्रेनिंग दी जाएगी. इन जवानों को होलोग्राफिक्स, नाइट, फायर कंट्रोल सिस्टम से लैस किया जाएगा. साथ ही, हैंड हेल्ड टारगेट सिस्टम भी जवानों के हाथ में दिए जाएंगे.

पहले चरण में 46000 अग्निवीर होंगे भर्ती

अग्निपथ योजना को लेकर उठने वाले तमाम सवालों का जवाब देते हुए तीनों रक्षा प्रमुख और रक्षा मंत्री ने कहा कि यह एक नई योजना है। जिसके लिए पिछले 2 सालों से काफी तैयारी की गई है और यह देश के लिए कारगर साबित होगी इसमें पैसे बचाने की बात को मध्य नजर नहीं रखा गया है। बल्कि देश को यंग टैलेंट देने के नजरिए से इसे तैयार किया गया है।

Agneepath scheme apply online

के लिए अभी कोई वेबसाइट या फॉर्म ( agneepath scheme form) जारी नहीं किया गया है । फॉर्म या इस से रिलेटेड कोई सुचना जारी होने पर हम अपनी वेबसाइट पर अपडेट करेंगे , आप agneepath scheme apply करने के लिए आप हमारी वेबसाइट से जुड़े रहे

Agneepath scheme in hindi pdf download

Agneepath scheme upsc , agneepath scheme pdf , agneepath yojana in hindi pdf , agneepath scheme in hindi pdf , what is agneepath recruitment scheme in hindi

Agneepath scheme army FAQ

चार साल नौकरी के बाद क्या होगा?

इस तरह चुने गए कैंडिडेट्स, अग्निवीर के तौर पर 4 साल तक सेना में काम करेंगे. चार साल की सेवा के बाद अग्निवीर सेना की नौकरी छोड़ देंगे. इसके बाद वे समाज में एक स्किल्ड नागरिक के तौर पर वे अनुशासित जीवन जी सकेंगे. मेरिट के आधार पर और सेना की जरूरत के हिसाब से 25 फीसदी अग्निवीरों को रेगुलर कैडर में समायोजित कर लिया जाएगा. कहा जा रहा है कि अन्य नौकरियों में उन्हें प्राथमिकता भी दी जाएगी.

अग्निवीरों की सैलरी कितनी होगी?

Agnipath योजना के तहत अग्निवीरों की सालाना सैलरी 4.76 लाख रुपये होगी. चौथे साल में यह सैलरी बढ़कर 6.92 लाख रुपये हो जाएगी. इसके अलावा रिस्क और हार्डशिप पैकेज अलग से दिया जाएगा. सेना में 4 साल की सेवा पूरी करने के बाद करीब 11.7 लाख रुपये एकमुश्त ब्याज समेत दिया जाएगा. यह पैसा इनकम टैक्स के दायरे से बाहर होगा.

शहीद या हादसे का शिकार होने पर क्या  होगा?

आर्मी चीफ जनरल मनोज पांडे ने बताया कि अगर इस सेवा के दौरान कोई जवान शहीद होता है तो उसके परिवार को पूरा इंश्योरेंस कवर मिलेगा. इसके अलावा, शहीद के परिवार को सेवा निधि समेत लगभग एक करोड़ रुपये दिए जाएंगे. इसके अलावा, शहीद की बची हुई सेवा की पूरी सैलरी भी परिवार को मिलेगी. सेवा के दौरान अगर जवान दिव्यांग हो जाते हैं तो दिव्यांगता के प्रतिशत के हिसाब से करीब 44 लाख रुपये मिलेंगे. सेवा निधि के अलावा बची हुई सेवाकाल की पूरी सैलरी भी जवान को दी जाएगी.

कितने अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी ?

Agneepath recruitment scheme के तहत पहले बैच में 46000 अग्नि वीरों को तीनों सेना में भर्ती किया जाएगा और पहली रैली अगले 90 दिनों के भीतर शुरू हो जाएगी।

Agneepath Scheme के तहत सेना में चार साल काम करने के बाद कहां-कहां नौकरी पा सकेंगे जवान ?

कई राज्य सरकारों और केंद्रीय विभागों ने अग्निवीरों को सेवा समाप्त होने के बाद अपने यहां नौकरियों में वरीयता देने का एलान किया है।

Agnipath yojna army Bharti 2022 का नोटिफिकेशन कब जारी किया जाएगा?

अग्निपथ योजना भर्ती 2022 का नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है।

Leave a Comment