भारत के सबसे बड़ें EV चार्जिंग स्टेशन का हुआ उद्घाटन, एक दिन में चार्ज होंगी 1,000 इलेक्ट्रिक कारें

गुरुग्राम के सेक्टर 86 में गुरुवार को भारत के सबसे बड़े इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग स्टेशन का उद्घाटन किया गया है। दिल्ली-जयपुर ई-हाईवे पर स्थित इस चार्जिंग स्टेशन में 141 चार्जिंग प्वाइंट दिए गए हैं और यहां 24 घंटे में 1,000 इलेक्ट्रिक कारों को चार्ज किया जा सकता है। इस चार्जिंग स्टेशन लगाने वाली कंपनी Alektrify पिछले महीने गुरुग्राम के सेक्टर 52 में एक बड़ा चार्जिंग स्टेशन लगा चुकी है।

कंपनी का कहना है कि इस चार्जिंग स्टेशन में 75 AC नार्मल चार्जर और 25 DC फास्ट चार्जर लगाए गए हैं। DC चार्जर से जहां 24 घंटे में 570 इलेक्ट्रिक कारों को चार्ज किया जा सकता है, वहीं AC चार्जर की मदद से एक दिन में 600 कारों को चार्ज किया जा सकता है। इस चार्जिंग स्टेशन की दोनों तरह के चार्जर के इस्तेमाल से 24 घंटे में कुल 1,000 इलेक्ट्रिक कारों चार्ज करने की क्षमता है।

Alektrify का कहना है कि यह कंपनी की दूसरी चार्जिंग स्टेशन है जिसे 30 दिनों के रिकॉर्ड समय में तैयार किया गया है। कंपनी समान चार्जिंग क्षमता वाले दो और चार्जिंग स्टेशनों को 60 दिनों के भीतर दिल्ली-आगरा ई-हाईवे पर शुरू करने की तैयारी कर रही है।

उद्घाटन के दौरान, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के राष्ट्रीय कार्यक्रम निदेशक और नेशनल हाइवेज फॉर इलेक्ट्रिक व्हीकल्स (एनएचईवी) के परियोजना निदेशक अभिजीत सिन्हा ने कहा, ‘यह हमारा दूसरा प्रोटोटाइप स्टेशन है जो सेक्टर-52 में स्थापित चार्जिंग स्टेशन के शुरू होने के बाद सिर्फ 30 दिनों में बनाया गया है। दिल्ली-आगरा ई-हाईवे के लिए 60 दिनों के भीतर नोएडा में समान आकार और पैमाने के दो नए स्टेशन स्थापित किए जाएंगे।’

उन्होंने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों/निजी संस्थाओं को आवंटन की तारीख से 90 दिनों के रिकॉर्ड समय के भीतर 30 और ई-हाईवे चार्जिंग स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि ये चार्जिंग स्टेशन व्यावसायिक और तकनीकी रूप से पेट्रोल पंपों के साथ अब 72 प्रतिशत उपयोग और 36 महीने के ब्रेक के साथ प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं, इस स्टेशन पर 1,000 कारों और सेक्टर 52 स्टेशन पर 576 कारों को चार्ज करने की क्षमता है। इन सरल प्रोटोटाइप ने साबित कर दिया है कि ई-हाईवे चार्जिंग स्टेशन विश्व स्तरीय होंगे और भारतीय राजमार्गों पर ई-मोबिलिटी का एक मजबूत वाणिज्यिक रोडमैप तैयार करेंगे।

Leave a Comment